इसके सामने विज्ञान भी हार गया, दिल्ली का सबसे बड़ा अनसुलझा रहस्य

अनसुलझा रहस्य

दिल्ली शहर अपने अन्दर करोड़ों रहस्य छुपाये हुए है, जिनके बारे में जान पाना शायद ही कभी मुमकिन हो| जो किला कभी फिरोज शाह की आँखों का

तारा हुआ करता था आज वो दिल्ली में खंडर बना पड़ा है | इस किले में आज भी हजारों ऐसे रहस्य छिपे हुए हैं जो विज्ञान के सामने आज भी एक बड़ी चुनौती हैं , जिनके सामने विज्ञान भी मौन है|
बताया जाता है की किसी समय में इस किले में उन लोगों को दर्दनाक और भयानक यातनाएं देकर मारा जाता था जो लोग राजा से बगावत करते थे |
लोगों का मानना है की वो लोग आज भी इस किले में जिन्न के रूप में मौजूद हैं जिन्हें यातनाएं देकर कभी मार दिया गया था|
अब जो भी इस कीलें में रात के समय जाता है उसकी लाश शुबह बड़े दर्दनाक हालात में मिलती है, जिन्हें देखकर यही अंदाजा लगाया जाता है की उनकी मौत बड़ी क्रूरता और निर्दयी ढंग से तड़पा - तड़पा कर की गई होती है | उनकी लाश बड़ी रहस्यमयी हालत में पाई जाती है|

इस किले के अन्दर आज भी एक बावली(पानी का तालाब)  है जिसके अन्दर पानी भरा रहता है लेकिन सोचने वाली बात यह है की सरकार ने इस बावली को बंद करवा रखा है और कोई भी इस बावली के पास ना जा सकता है और ना ही देख सकता है | इसके पीछे क्या रहस्य है यह कोई नहीं जानता लेकिन वहां के लोगों का कहना है की आजतक जिस किसी ने भी इस बावली का पानी पीया उसकी रहस्यमयी ढंग से मौत हो गई| इस से भी हैरानी की बात यह है की जब इस बावली के पानी को शोध के लिए भेजा गया तो इसमें किसी भी प्रकार का कोई विष या जीवाणु नहीं पाए गए, तो ऐसा क्या था की इस पानी को जिसने भी पीया उसकी मौत हो गई? यह आज भी एक रहस्य बना हुआ है |
त्रिवंतियों के अनुसार हर रात यहाँ कोई ऎसी शक्ति आती है जिसे अगर कोई देख लेता है तो वह अंधा या पागल हो जाता है|

यहाँ की सरकार और गार्ड इस बात को साफ साफ नकारते हैं, उनके अनुसार यहाँ ऐसा कुछ भी नहीं है| लेकिन हैरान कर देने वाली बात यह है भी है की आजतक जिस किसी ने भी इस बावली के आस - पास अपन घर बनाने की कोशिश की वह मारे गए|
रहस्य की बात यह भी है की जब आप यहाँ जाकर देखेंगे तो आपको बहुत सारे घर तो देखने को मिलेंगे लेकिन किसी भी घर का मुह इस बावली की ओर नहीं है|
आखिर इस किले के अंदर ऐसा क्या है की जो भी रात को इस किले के अंदर रूका वह मारा गया ?
आखिर ऐसा क्या है इस बावली के पानी में की इसे जिसने भी पीया वह मारा गया ?
यहाँ के धार्मिक लोगों की माने तो यहाँ आज भी जिन्न रहते हैं जो उन्हें मौत की सजा दे देते हैं जो भी बिना राजा की आज्ञा के इस किले में रात को रूकते हैं | और यह भी कहा जाता है की यहाँ रात को अफ्सराएं आती हैं और अगर उन्हें कोई आम आदमी देख ले तो वह अंधा या पागल हो जाता है|
इस बावली को सिर्फ यहाँ के राजा महाराजाओं के पीने के पानी के लिए बनाया गया था इसीलिए इस पानी को पीने से लोगों की मौत हो जाती है क्योंकि यह पानी सिर्फ राजा महाराजाओं की पीने के लिए हुआ करता था|

आज भी यह किला एक रहस्य बना हुआ है और शायद हमेशा ही बना रहेगा! क्योंकि कुछ रहस्य विज्ञान से नहीं अपितु आत्म ज्ञान से ही सुलझाए जा सकते हैं !

क्या आप इस किले में रात के समय रूकना चाहेंगे ? क्या लगता है आपको इस किले के बारे में कोमेंट करके हमें जरूर बताएं !



Comments