Skip to main content

Whats New

अगर करोना वायरस के लक्षण दिखें तो आपको यह करना है

जैसा की आप जानते हैं की करोना वायरस पूरी दुनिया मेँ तेजी से फ़ाइल रहा है और इसका कोई उपचार भी नहीं है लेकिन फिर भी कुछ करोना वायरस की चपेट मेँ आए हुए मरीज इस से राहत पाने मेँ सफल हुए हैं । 
अगर आपको अपने शरीर मेँ करोना वायरस के लक्षण दिखाई दें तो आपको नीचे दी गई बातों पर ध्यान देने की जरूरत है :-करोना वायरस होने के लक्षण यहाँ क्लिक करके जाने ज्यादा से ज्यादा पानी पी जिए और ज्यादा से ज्यादा तरल ली जीए । अच्छी नींद लें , आराम करें । अपने शरीर को गर्म रखें । कमरे मेँ गर्म हीटर आदि की सहायता से कमरे को गर्म रखें । नजदीकी हॉस्पीटल मेँ अपनी जांच कराएं और दावा लें । नारियल पानी पियें ताकि आपके शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़े ।  इस जानकारी को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ! 

यह एलियंस को छुपा लेता है इसीलिए हम एलियंस को नहीं देख पाते


 वीडियो देखें


आखिर पता चल ही गया की हम लोग एलियंस को क्यों नहीं देख पा रहे हैं !
वैज्ञानिकों के अनुसार अंतरिक्ष के 95 फीसद हिस्से में डार्क मैटर फैला हुआ है। यह इतने विशाल क्षेत्र में फैला हुआ है की हम खुद नहीं जानते की आखिर यह कितने क्षेत्र में विदमान है |
आखिर डार्क मैटर है क्या ? दोस्तों यह एक गहरे काले रंग का पदार्थ है जो किसी भी वास्तु को छुपने का अवशर प्रदान करता है |
वैज्ञानिकों का कहना है कि डार्क मैटर की मौजूदगी की वजह से हम  एलियनों के सिग्नल नहीं पहचान पाते हैं। यह एक तरह से उन्हें छुपाने का कार्य करता है| क्योंकि जैसा की हम सभी लोग जानते हैं की काला रंग सभी प्रकाश रंगों को अपने अन्दर ही शोख लेता है | एलियंस के सिग्नल इसी डार्क मैटर में छुप जाते हैं और हम लोग उन्हें पहचान नहीं पाते हैं |
इस बात की पुष्ट करने के लिए स्पेन स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ कार्डिज के वैज्ञानिकों ने एक प्रयोग किय| प्रयोग में 137 लोगों को लिया गया | इन सभी प्रतिभागियों को इमारत और सड़क जैसी मानव निर्मित संरचनाओं और पहाड़ व नदियों की आसमान से ली गई तस्वीरों के बीच अन्दर को पहचानना था। एक तस्वीर में गोरिल्ला की छोटी आकृति थी लेकिन दूसरी में ऐसी कोई आक्रति नहीं थी|
वैज्ञानिक यह देखना चाहते थे कि प्रतिभागी इस छोटे गोरिल्ला पर ध्यान देते हैं या नहीं। प्रयोग से पहले उन सभी की दिमागी  क्षमता का भी परीक्षण किया गया। प्रयोग पूरा होने के बाद वैज्ञानिकों ने पाया कि बुद्धिमान लोगों की जगह कम बुद्धिमान लोगों ने अधिक बार गोरिल्ला की पहचान की|
शोधकर्ताओं का कहना है की, "अंतरिक्ष के बारे में हमने एक राय बना ली है। अपनी उसी जानकारी के आधार पर हम बाकी चीजों या घटनाओं को देखते हैं। इसलिए कई बार कोई अलग वस्तु या घटना हमारी आंखों के सामने से गुजर जाती है तो उसका भान तक नहीं होता।"
इस तरह हम लोग कुछ बड़ा देखने में ही व्यस्त रह जाते हैं जबकि महत्वपूर्ण लेकिन छोटी चीजें जैसे एलियंस को हम देख नहीं पाते !
आपको यह जानकारी किसी लगी कोमेंट करके हमें जरूर बताए!




Comments