बिकने वाला है ताजमहल ....?


क्या ताजमहल भी बिकने वाला है ?
क्या ताजमहल है बिकाऊ ? 
आखिर कौन और क्यों बेचना चाहता है ताजमहल ? 


हम आपके इन सभी सवालों के जवाब देंगे !

यह है पूरा मामला :- 

भारत सरकार ने एक अडॉप अ हेरिटेज नाम से स्कीम निकाली थी जिसके तहत भारत की 100 एतिहासिक स्मारक को लीज यानी ठेके पर दिया जाएगा | इन 100 एतिहासिक स्मारकों में ताजमहल भी सामिल है !  

बात दें की लाल किले को 5 साल के लिए डालमिया ग्रुप ने गोद ले लिया है , 5 साल तक डालमिया ग्रुप ही लाल किले के मालिक होंगे | 15 अगस्त के दिन प्रधानमंत्री का भाषण लाल किले में ही होता रहेगा , लेकिन डालमिया ग्रुप चाहे तो उस दिन भी अपनी ब्रांडिंग बरकरार रख सकती है | 

अब अगला नंबर ताजमहल का भी हो सकता है, ताजमहल को भी शायद कोई जल्द ही गोद लेने वाला है ! 
ताजमहल जो भारत की शान रहा  है , शान है और रहेगा ..... अब किसी और की देख रेख में रहेगा ....

इस तरहा से एतिहासिक स्मारकों को किसी और को शौपा जा रहा है , क्या यह उचित है ? 
आपका इस बारे में क्या कहना है ? हमें कमेन्ट में जरूर बताएं !


Comments