श्राद्ध के दिनों मे न करें ये काम वरना हो जाएंगे पितर नाराज

 श्राद्ध  के दिनों  मे न करें ये काम वरना  हो जाएंगे पितर नाराज


devotional

श्राद्ध  के दिनों मे हमे भूल कर भी नहीं करने चहिए ये सब काम जिस से हमारे  पितर हम से नाराज  हो जाए । आज हम आपको इसी के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी देंगे । कहा जाता है की इन दिनों में जिन लोगों की मुत्यु हो चूकि है उनकी आत्मा पुथ्वी पर आती है और अपने परिवार के बीच रहती है ।

 इसलिए इन दिनों में कोई भी शुभ `काम करना ठीक नहीं माना जाता । हमें इन दिनों मे नए कपड़े नहीं खरीदने चाहिए और न ही पहने चाहिए क्युकी श्राद्ध का महिना शौक  व्यकत  करने का होता है और नए कपड़ों की खरीददारी  हम किसी त्योहार , शादी जैसे खुशी के माहोल में करते हैं । हमें इन दिनों सोना भी नहीं खरीदना चहिए क्युकी माना जाता है की ये खुशी  का नहीं शौक  व्यकत करने का समय होता है उनके लिए जो अब हमारे बीच नहीं है । हमे  इन दिनों दाड़ी - मुछ और बाल भी नहीं कटवाने चहिए  क्युकी इसका मतलब भी शौक  व्यकत करने से है, न ही कोई नया वाहन लेना चहिए क्युकी इसे सुख से जोड़ कर देखा जाता है और जब हम शौक मे होते है तो हम दुख प्रकट करते है ना की जशन मनाते हैं । 


हमें न ही नया घर लेना चहिए माना जाता है की जहां पितरों की मुत्यु हुई होती है वो उसी जगह पर आते है और उनके परिजन उस जगह नहीं मिलते तो उन्हे बहुत दुख होता है । इन दिनों कोई मेहमान या कोई याचक आपके घर आए तो उसे बिना खाना खाए और पानी पीए घर से न जाने दे क्युकी माना जाता है की पितर किसी भी रूप मे श्राद्ध मांगने आ सकते है इसलिए किसी का अनादर नहीं करना चहिए । श्राद्ध के दिनों बिना पितरों को भोजन दिए खुद भोजन नहीं करना चहिए जो भी भोजन बनाया जाए  उस मे  से एक हिस्सा गायों , कुत्तों और कौवों  को खिला देना चाहिए ।

इस जानकारी को अपने सभी मित्रों और परिवार वालों को सांझा जरूर करें ताकि उन लोगों को भी इन सभी बातों का ज्ञान हो सके । उम्मीद करते हैं की आपको यह जानकारी बेहद पसंद आयी होगी । ऐसी ही ज्ञान वर्धक बातों के लिए हमें फॉलो करना ना भूलें । 

Popular posts from this blog

तालाब की ओर.... दिमाग घुमाने वाली आज की पहेली (सही उत्तर यहाँ देखें )

वह कौन सी चीज है जिसे हम खाने के लिए खरीदते हैं लेकिन खाते नहीं हैं ?

सेक्स ना करने पर आपके शरीर पर पड़ता है ये प्रभाव