नाराज रहते है हनुमान जी इन लोगों से

 हनुमान जी कलयुग के एक मात्र ऐसे देवता हैं जो अपने भक्तों की रक्षा के लिए तुरंत पुहच जाते है। अपने भक्तों के सारे सकंट को हरने वाले हनुमान जी अष्टसिद्धयो के स्वामी है । वो अपने भक्तों की सभी मनोकामना  पूरी करते है।  जो भी भक्त रोज हनुमान चालीसा का पाठ करता है और  श्री राम का नाम जपता है उसके जीवन पर कभी भी बुरी शक्तियों का प्रभाव नहीं पड़ता। 



हनुमान जी चिरंजीवी हैं, उन्हे प्रभु राम ने अंत तक मृत्यु लोक में निवाश करने का वरदान दिया है।  इसलिए हनुमान जी आज भी जिंदा हैं  और इसके कई प्रमाण हमे देखने को भी मिले है। उन्होंने अपने कई भक्तों को दर्शन भी दिये  है और आज भी ऐसा  माना जाता है की जिस स्थान पर नित्य श्री राम कथा का पाठ होता है वहाँ कथा सुनने  हनुमान जी जरूर आते है।हनुमान जी जिस प्रकार अपने भक्तों की रक्षा करते है  उसी प्रकार वह दुष्टों को दंड भी देते है। 

प्राचीन धर्म ग्रथों के अनुसार कुछ काम ऐसे है जिन्हे करने से व्यक्ति को हनुमान जी की कृपा नहीं मिलती और ऐसे व्यक्तियों को कलयुग के पापी माना गया है।अगर कोई आदमी या औरत ऐसे काम करता है तो वह हनुमान जी को कभी प्रसन्न नहीं कर सकता, ऐसे व्यक्ति को हनुमान जी दंड का पात्र समझते हैं । 

आज हम आपको कुछ ऐसे कार्यों के बारे में बताएंगे जिन्हे अगर घर के सदस्य करते हैं तो ऐसे घर में न माँ लक्ष्मी का वास होता हैं और न ही हनुमान जी की उन पर कभी कृपा होती हैं।  इन कार्यों के बारे मे अंगद ने रावण को रावण सभा में बताया था जो लंका के विनाश का कारण बने थे और हनुमान जी ने लंका छोड़ने से पहले लंका को इसीलिए जला डाला था क्योंकि वहाँ पर ऐसे कार्य होते थे जो हनुमान जी को गुस्सा करने के लिए काफी थे। जिस घर मे ऐसे कार्य होते हैं उस स्थान को हनुमान जी छोड़ कर चले जाते हैं और ऐसे स्थान पर रहने वाले लोगों पर हमेशा दुर्भय और दरिद्रता आती है। ऐसे स्थान पर न तो माँ लक्ष्मी का वास होता हैं  ,न ही कभी सुख-शांति आती है।  

तो आइए जाना लेते हैं  कौन से हैं  वो लोग जिन पर हनुमान जी कभी कृपा नही करते 

1-ईश्वर का अपमान -जिस घर के लोगों का कोई आराध्य नही हैं और कोई भी प्रभु पर विश्वास नही करता और जहां सदा ईश्वर का अपमान किया जाता हो ऐसे घर मे रहने वाले लोगों पर हनुमान जी कभी कृपा नही करते। जहां पर श्रीराम का अपमान किया जाता हो ऐसे पापी लोगों को हनुमान जी  दंड का पात्र ही समझते हैं।  

2-जहां मास और शराब का सेवन किया जाता हो- जिस घर के लोग सदा शराब और मास का सेवन करते हैं उस घर से देवी लक्ष्मी चली जाती हैं ।  ऐसे घर में रहने वाले लोग हमेशा दरिद्र ही रहते है और हनुमान जी भी  उन पर कभी कृपा नही करते। 

3-महिलाओ का अपमान-जिस घर में महिलाओं का अपमान होता  हैं ।  जहां पर आदमी अपनी मर्दानगी दिखाने के लिए महिलों पर हाथ उठाते हैं अथवा रोज उनके साथ मार - पीट करते हैं ।  ऐसे व्यक्तियों को हनुमान जी दंड जरूर देते हैं , ऐसे लोग भू लोक ही नहीं अपितु मौत के बाद भी हनुमान जी के क्रोध के शिकार होते हैं ।  

4- जिस घर में एकता न हो- जिस घर में रहने वाले लोगों के बीच एकता न हो, भाई बहन में सदा झगड़े होते हो, ऐसे घर में रहने वाले लोग कभी सुखी नही रहते और हनुमान जी भी उन पर  कभी  कृपा नही करते । जिस प्रकार राम ,लक्ष्मण,भरत, शत्रुगण इन चारों भाइयों के बीच प्रेम और सम्मान था।  उसी प्रकार परिवार में एक दूसरे के प्रति प्रेम और सम्मान होना जरूरी हैं । 

                

5-जानवरों की हत्या- जिस घर में बेजूबान प्राणीयों को मारा जाता हो, या कष्ट दिया जाता हो ऐसे घर में रहने वाले लोगों पर हनुमान जी नाराज रहते हैं और उन्हे दड़ के पात्र समझते हैं ।  

6 -संतों का अपमान- जिस घर के लोग संतों का अपमान करते हैं और सदा उनके बारे में बुरा भला बोलते हैं, हनुमान जी सदा उनसे नाराज रहते हैं और ऐसे लोग हनुमान जी की करुणा से वंचित रहते हैं।  

7 -चरित्रहीन लोग- जिस घर में चरित्रहीन लोग रहते हो और जो पराई महिलाओं  पर बुरी नजर रखते हैं  अथवा उन के साथ शारीरिक संबध बनाते हैं , तो ऐसे घर को भी छोड़ कर हनुमान जी चले जाते हैं। रावण की लंका में ऐसे सभी प्रकार के कार्ये किये जाते थे।  इसलिए हनुमान जी ने उसे छोड़ने  के बाद उस स्थान को नष्ट कर दिया था। इस प्रकार जिस घर में ऐसे कार्य होते हैं उस स्थान पर हनुमान जी नही रहते, और उसे नष्ट कर देते हैं । 


इस जानकारी को अपने सभी परिवार और मित्रों को सांझा करें , हनुमान जी की कृपया सदा आप पर बनी रहे। 

Trending

तालाब की ओर.... दिमाग घुमाने वाली आज की पहेली

वह कौन सी चीज है जिसे हम खाने के लिए खरीदते हैं लेकिन खाते नहीं हैं ? (Quiz)

सेक्स ना करने पर आपके शरीर पर पड़ता है ये प्रभाव

कोरोना वायरस के लक्षण दिखें तो तुरंत इन बातों पर ध्यान दें

ये खाने से बढ़ रहे हैं खाज खुजली और त्वचा रोग , बचने के लिए अभी जान लें

ऐसे पुरुष की पत्नी उसे छोड़कर पराए मर्द से प्यार करती हैं, शुक्राचार्य नीति