सुहागन महिला को कभी नहीं पहननी चाहिए ये चीजे

 आज हम आपको बताएंगे की एक सुहागन महिला को कौन - सी चीजें या वस्त्र नहीं पहनने चाहिए, अगर आपका पति भी बोले तो भी आपको ये चीजे नहीं पहननी चाहिएं क्योंकि ऐसा करने से आपके पति पर बहुत बड़ी मुसीबत आ सकती है।

हिन्दू धर्म की संस्कृति में वास्तु शास्त्र को बहुत अधिक माना जाता है।  हम किसी भी काम को शुरू करते है तो पहले वास्तु शास्त्र के बारे में पता करते है  ताकि हमे भविष्य मेँ किसी बड़ी परेशानी का सामना न करना पड़े । 

 आज के आधुनिक दौर में ज्यादातर शादीशुदा महिलाएं  ऐसी वस्तुओं को पहन लेती हैं जिनके बारे में उन्हे पता भी नहीं होता की वास्तु शास्त्र के अनुसार इनका हमारे जीवन पर क्या प्रभाव पड़ेगा।शस्त्रों में ऐसा बिल्कुल नहीं लिखा है की सुहागन महिला को कुछ भी पहन लेना चाहिए, ऐसा करने से जीवन पर बुरा प्रभाव पड़ता है।यहाँ तक की परिवार रिस्ते और पति की जान पर भी आ सकती है,  तो आइये जानते है की वो कौन सी चीजे है जो महिलाओं को कभी नहीं पहननी चाहिए । 


1-सफेद रंग के कपड़े -शस्त्रों में बताया गया है की सुहागन महिला को एक दम सफेद रंग के कपड़े कभी नहीं पहनने चाहिए ऐसा करने से मान सम्मान को ठेस लग सकती है।वास्तु शास्त्र के अनुसार किसी भी सुहागन महिला को एक दम सफेद रंग के कपड़े जैस साड़ी या शूट कभी नहीं पहनने  चाहिए। इस के  पीछे का कारण यह है की सफेद रंग की साड़ी को पहनने से पति वर्त धर्म बिल्कुल खत्म हो जाता है क्योंकि सफेद रंग की साड़ी या शूट पति की मृत्यु होने के बाद विधवा औरतें पहनती हैं, इसलिए सुहागन महिला को कभी भी सफेद रंग के कपड़े कभी नहीं पहनने चाहिए ।कुंवारी लड़कियां सफेद रंग के कपड़े पहन सकती है । 

2-सोना - इस आधुनिक दौर में महिलाएं सुंदर दिखने के लिए पैरों में सोने की पायल और चुटकी पहन लेती है जो की शादीशुदा महिलाओं के लिए पूरी तरह से अशुभ माना जाता है।पैरों में सोने से बनी चीजों को पहनने से कुबेर महाराज का अपमान होता है जिसके कारण आपके परिवार से रिस्ते टूट सकते है और अनेकों दूसरी परेशानियाँ भी आ सकती है इसलिए सोने को पैर में कभी नहीं पहनना चाहिए। पैरों में सोना पहनने से पाप लगता है। 

जरूर से पहनने चाहिए :- 

सिंदूर और मंगलसूत्र - हिन्दू धर्म के अनुसार सिंदूर और मंगलसूत्र के बिना शादी अधूरी मानी जाती है।यह तो सभी लोग जानते है की हिन्दू महिलाओं के लिए सिंदूर सुहाग की निशानी होती है और वो  इसे अपने पति की खुशी से जोड़ती है। ऐसे में जो महिला शादीशुदा होकर भी सिंदूर न लगाए  तो वह दुनिया का बहुत बड़ा पाप माना जाता है, इसलिए सुहागन महिलाओं को सिंदूर जरूर लगाना चाहिए।मंगलसूत्र में सोना या पीतल भले ही न लगा हो पर पीले धागे में काले मोती जरूर होने चाहिए। ऐसा माना जाता है की मंगलसूत्र में पीला हिस्सा माता पार्वती हैं और काला हिस्सा भगवान शिव, ऐसे में जो महिला शादीशुदा होकर भी मंगलसूत्र न पहनती हो तो सब से बड़ा पाप मानते है, ऐसा करना आपके रिस्ते पर कलंक लगा सकता है।इसलिए शादीशुदा महिला को मंगलसूत्र जरूर पहनना चाहिए, अगर आपके पास मंगलसूत्र नहीं है तो आप काला धागा भी बांध सकते है।

Trending

वह कौन सी चीज है जिसे हम खाने के लिए खरीदते हैं लेकिन खाते नहीं हैं ? (Quiz)

तालाब की ओर.... दिमाग घुमाने वाली आज की पहेली

लाल गाय लकड़ी खाए .. (आज की मजेदार पहेली )

ये खाने से बढ़ रहे हैं खाज खुजली और त्वचा रोग , बचने के लिए अभी जान लें

कागज का घोडा .. (आज की मजेदार हिन्दी पहेली )

हर पत्नी अपने पति से छुपाती है ये पांच बातें

कौन - सी चीज है जो गर्मी हो या ठंड .... (आज की मजेदार पहेली )

ऐसे पुरुष की पत्नी उसे छोड़कर पराए मर्द से प्यार करती हैं, शुक्राचार्य नीति

साल मेँ मुझे एक बार ही खरीदते हो.... (आज की मजेदार पहेली )

सेक्स ना करने पर आपके शरीर पर पड़ता है ये प्रभाव